SHAALA SIDDHI PORTAL

शाला सिद्धि | SHAALA SIDDHI – हमारी शाला ऐसी हो

SHAALA SIDDHI | SHALA SIDDHI | शाला सिद्धिSHAALA SIDDHI LOGIN PORTAL FOR HELP CENTRE, LATEST GOVERNMENT SCHEME गत कई वर्षों से सभी विद्यार्थियों के लिए गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर पर कई नए प्रयास किए गए हैं।

SHAALA SIDDHI
SHAALA SIDDHI

इन सबका उद्देश्य रहा है कि शाला में सुधार हो तथा वे अच्छा कार्य-प्रदर्शन कर सकें। इस परिप्रेक्ष्य में विभिन्न स्तरों पर लगातार ऐसी पद्धतियों को विकसित करने के प्रयास किए जा रहें हैं, जिसमें शालाओं (SHAALA SIDDHI)के समग्र मूल्यांकन के माध्यम से, विकास की एक निश्चित योजना बनाकर उनका उन्नयन किया जा सके। राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा संचालित ‘प्रतिभा पर्व’, ‘हमारी शाला कैसी हो’, ‘शाला विकास योजना’, शाला गुणवत्ता कार्यक्रम, ‘शाला दर्पण’ प्रायोजनाएँ इन्हीं प्रयासों के उदाहरण हैं। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तत्वावधान में राष्ट्रीय शैक्षिक योजना एवं प्रशासन विश्वविद्यालय, नई दिल्ली (NUEPA) द्वारा भी इस क्षेत्र में पहल की गयी है और शालाओं के मूल्यांकन और सुधार हेतु एक रूपरेखा तैयार की गई है जिसे ‘शाला सिद्धि’ | SHAALA SIDDHI कहा गया है। इसका शुभारम्भ माह नवम्बर 2015 में किया गया।

SHAALA SIDDHI
SHAALA SIDDHI

उपरोक्त कार्यक्रमों के क्रियान्वयन से प्राप्त अनुभवों से सीखते हुए तथा शाला सिद्धि फ्रेमवर्क को आधार बनाते हुए राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा राज्य की व्यवस्थाओं और आवश्यकताओं के परिप्रेक्ष्य में गुणवत्तायुक्त शिक्षा उपलब्ध कराने के दृष्टिगत शालाओं के मूल्यांकन और उन्नयन के लिए ‘हमारी शाला ऐसी हो’ (SHAALA SIDDHI)कार्यक्रम तैयार किया गया है। इस कार्यक्रम में शालाओं के मूल्यांकन और उन्नयन की एक सकारात्मक परिकल्पना और पहल की गई। इस कार्यक्रम में सहभागी हो कर शालाएँ अपने आप को सक्षम करने के लिए स्वयं का सतत मूल्यांकन कर चिन्हित क्षेत्रों में शाला उन्नयन की कार्य-योजना के माध्यम से शाला का विकास कर सकेंगी। यह एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया होगी।

SHAALA SIDDHI LOGIN

HERE YOU CAN LOGIN INTO THE SHAALA SIDDHI PORTAL TO GET YOUR SCHOLL ACCESS | यहां आप अपनी छात्रवृत्ति की जानकारी प्राप्त करने के लिए शालिदा पोर्टल में लॉग इन कर सकते हैं

STEPS TO LOGIN INTO THE SHAALA SIDDHI PORTAL | SHAALA SIDDHI पोर्टल में प्रवेश करने के लिए कदम

  1. CLICK ON THE LOGIN BUTTON GIVEN BELOW
  2. FILL USER NAME AND LOGIN IN THE GIVEN SECTION
  3. AFTER THE CLICK ON SUBMIT BUTTON
SHAALA SIDDHI LOGIN
SHAALA SIDDHI LOGIN

इस कार्यक्रम के प्रमुख उद्देश्य निम्नलिखित :

  • शालाओं के मूल्यांकन की प्रक्रिया विकसित करने के लिए तकनीकी रूप से उत्तम वैचारिक प्रक्रिया का निर्माण करना तथा उनके लिए प्रक्रिया और उपकरण (प्रपत्र) निश्चित करना।
  • शाला मूल्यांकन हेतु राज्य में एक संस्थागत प्रक्रिया निश्चित करना तथा उसका क्रियान्वयन करना।
  • शाला मूल्यांकन हेतु शालाओं तथा सम्बन्धित अधिकारियों को सक्षम बनाना जिससे शालाएँ निरंतर उन्नति कर सक्षम बनी रहें।
  • शाला को इस प्रकार सहयोग देना कि वे अपनी आवश्यकताओं का विश्लेषण कर उनकी पूर्ति हेतु निरंतर प्रयास करने में सक्षम हों।

इस कार्यक्रम की प्रमुख विशेषताएँ निम्नलिखित हैं –

  • शालाओं के मूल्यांकन हेतु आयामों तथा उनके मानकों को चिन्हित किया गया है जो शाला के मूल्यांकन और उन्नयन का आधार बिन्दु होंगी।
  • स्व-मूल्यांकन और बाह्य मूल्यांकन हेतु व्यापक उपकरण प्रपत्र के रूप में उपलब्ध कराए गए हैं।
  • शाला एवं बाह्य-मूल्यांकनकर्ताओं के लिए तार्किक, आसान तथा स्पष्ट मूल्यांकन उपकरणों को उपलब्ध कराया गया है।
  • युक्तिसंगत और पारदर्शी मूल्यांकन प्रक्रिया सुनिश्चित की गई है।

SHAALA SIDDHI – in english

Over the past several years, many new efforts have been made at the national and state level to provide quality education to all students. The purpose of all this has been to improve the school and they can perform well. In this perspective, efforts are being made to continuously develop such methods at various levels, in which through a holistic assessment of schools, a definite plan of development can be made and upgraded. ‘Pratibha Parva’, ‘Hamari Shala Kaisi Ho’, ‘Shala Vikas Yojana’, Shala Quality Program, ‘Shala Darpan’ projects run by the State Education Center are examples of these efforts. The National Educational Planning and Administration University, New Delhi (NUEPA), under the aegis of the Ministry of Human Resource Development, has also taken initiatives in this area and a framework for evaluation and improvement of schools has been called ‘Shala Siddhi’. It was launched in the month of November 2015.

The ‘Hamari Shala Aisi Ho’ program for evaluation and up-gradation of schools with a view to providing quality education in the context of the state’s systems and needs, learning from the experiences gained from the implementation of the above programs and forming the foundation of the school achievement framework. Has been prepared. In this program, a positive vision and initiative were taken for evaluation and up-gradation of schools. To enable themselves by participating in this program, the schools will be able to develop themselves through the action plan of the school up gradation in the identified areas by continuously evaluating themselves. This will be a continuous process.

Following are the major objectives of this program:

  • To develop a technically sound conceptual process for developing the process of evaluation of schools and to determine the process and tools (form) for them.
  • Determining and implementing an institutional process in the state for school evaluation.
  • Enabling schools and related officers for school evaluation so that schools continue to be able to progress continuously.
  • Supporting the school in such a way that they are able to analyze their needs and strive continuously for their fulfillment.

Following are the salient features of this program –

  • For evaluation of schools, dimensions and their standards have been identified which will be the basis of evaluation and up-gradation of schools.
  • Comprehensive tools for self-assessment and external evaluation are provided in the form.
  • Logical, easy and clear assessment tools have been made available for school and external evaluators.
  • Rational and transparent evaluation process is ensured.